अमेरिकन नवनिर्वाचित अध्यक्ष के शपथ ग्रहण के बाद एक अमेरिकन मुसलमान परिवार को मिला दिल को छू लेने वाला पत्र|




अमेरिका के नए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के शपथग्रहण के बाद कई लोग कह रहे हैं कि मुसलमानों में डर का माहौल है| ट्रंप के शपथग्रहण वाले दिन अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में विरोध प्रदर्शन भी हुए| गौरतलब है कि ट्रंप राष्‍ट्रपति चुनाव से पहले प्रचार के दौरान मुस्लिम समुदाय के खिलाफ काफी विवादित बातें कर चुके हैं| मसलन दुनियाभर के चौथाई से भी ज्यादा मुसलमान आतंकवादी हैं| ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने पर अमेरिका में मुस्लिमों के प्रवेश पर रोक लगाने की बात भी कही थी|

ऐसे में अमेरिका में एक मुस्लिम परिवार के लिए एक चिट्ठी सुखद आश्‍चर्य लेकर आई| राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शपथ ग्रहण के बाद इस मुस्लिम परिवार को एक दिल को छू लेने वाला पत्र मिला जिसे उनके पड़ोसियों ने लिखा था| इसमें इस परिवार को बिना किसी भेदभाव के रहने के लिए समर्थन की पेशकश की गयी थी|

चार दशकों से ओहायो के सिनसिनाटी में रह रहे अबूबाकर आमरी ने कहा कि वे तथा उनके पड़ोसी केवल ‘हैलो’ के अलावा ज्यादा कोई बातचीत नहीं करते थे इसलिए यह पत्र उनके लिए बड़ी हैरानी की बात थी| जिस दिन 70 वर्षीय ट्रंप ने शपथ ली, वेस्टवुड में उनका एक पड़ोसी यह पत्र उनके लेटर बॉक्स में छोड़ गया| जिसमें लिखा था, ‘प्यारे पड़ोसी, हमारे देश में आज से एक नया चरण शुरू हुआ है| इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि क्या होता है लेकिन कृपया इस बात को जान लीजिए कि अभी भी बहुत से लोग हैं जो आपको आपके धर्म का अनुपालन करने, भेदभाव के बिना आपके जिंदगी जीने के अधिकार के लिए लड़ेंगे| हमारे पड़ोस में आपका स्वागत है और यदि आपको कोई जरूरत हो तो हमें बताने में नहीं झिझकें’|

आमरी ने कहा, ‘मेरी बेटी, उसे कोई और जगह मालूम ही नहीं और बाकी अन्य मुस्लिम अमेरिकियों की तरह वह भी राष्ट्रपति ट्रंप के प्रचार के दौरान दिए गए भाषणों को लेकर चिंतित हैं.|हमें नहीं पता कि वह केवल ऐसा कहने के लिए कह रहे थे या ये सच होगा’| उन्होंने कहा, ‘ये पत्र बहुत मायने रखता है|इसे पाने के बाद मैं अपनी भावना बयान नहीं कर सकता’| उन्होंने कहा कि उनके पड़ोसियों के इस खत ने उनके मन को छू लिया है|

 

Loading...

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*